BrahMos WORLD INDIA MADHYA PRADESH BHOPAL WTN SPECIAL Astrology GOSSIP CORNER SPORTS BUSINESS FUN FACTS ENTERTAINMENT LIFESTYLE TRAVEL ART & LITERATURE SCIENCE & TECHNOLOGY HEALTH EDUCATION DIASPORA OPINION & INTERVIEW RECIPES DRINKS FUNNY VIDEOS VIRAL ON WEB PICTURE STORIES
WTN HINDI ABOUT US PRIVACY POLICY SITEMAP CONTACT US
logo
Breaking News

अपने स्मार्टफ़ोन से तुरन्त डिलीट करें ‘यह’ 10 ख़तरनाक VPN ऐप्स!

Thursday - February 27, 2020 3:06 pm , Category : WTN HINDI
हैकर्स के निशाने पर हैं कुछ VPN ऐप्स
हैकर्स के निशाने पर हैं कुछ VPN ऐप्स

गूगल प्ले स्टोर से सोच समझकर डाउनलोड करें VPN ऐप, हो सकती है मुश्किल
 

FEB 27 (WTN) – दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी आबादी वाले देश भारत में करोड़ों की तादात में स्मार्टफ़ोन यूज़र्स हैं। रिलायंस जियो की लॉन्चिग के बाद से भारत में स्मार्टफ़ोन यूज़र्स की संख्या में तेज़ी से वृद्धि हुई है। जियो द्वारा मुफ्त कॉलिंग और सस्ते इंटरनेट प्लान का ऑफर दिये जाने के बाद से भारत में स्मार्टफ़ोन की बिक्री में तेज़ी देखी गई। अब जबकि इंटरनेट सस्ता है, ऐसे में भारत में करोड़ों की तादात में लोग स्मार्टफ़ोन का इस्तेमाल कर रहे है। और जब स्मार्टफ़ोन का इस्तेमाल हो रहा है तो स्वाभाविक है कि कई तरह के ऐप्स भी यूज़र्स द्वारा इस्तेमाल किये जा रहे हैं।

लेकिन आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यूज़र्स को इस बात की जानकारी ही नहीं होती है कि जो ऐप्स वे इस्तेमाल कर रहे हैं वे कहीं उनकी प्राइवेसी का हनन तो नहीं कर रहे हैं। जीहां, देखा गया है कि गूगल प्ले स्टोर में कई ऐसे ऐप्स हैं जिनमें मैलयवेर है। और इनका इस्तेमाल करना किसी ख़तरे से ख़ाली नहीं है। दरअसल, इस तरह के ऐप्स यूज़र्स की बैंकिंग डिटेल, डेबिट और क्रेडिट कार्ड की डिटेल समेत फ़ोटो और वीडियों को हैक कर लीक कर सकते हैं। समय-समय पर गूगल प्ले स्टोर द्वारा मैलवेयर ऐप्स के बारे में यूज़र्स को जानकारी दी जाती है। वहीं गूगल द्वारा अपने यूज़र्स को बार बार यह भी कहा जाता है कि वे समय-समय पर डाउनलोडेड ऐप्स को अपडेटेट करते रहें।
 
इस सबके बीच, गूगल प्ले स्टोर में 10 ख़तरनाक ऐप्स स्पॉट किये गये हैं। बता दें कि VPN Pro के रिसर्चर्स ने यूज़र्स के बीच 10 पॉपुलर फ्री VPN ऐप्स में खामियां पाई हैं। वैसे आपकी जानकारी के लिए बता दें कि VPN (वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क) ऐप्स सिक्योर कनेक्शन के लिए बनाए जाते हैं। इधर, जानकारों ने कुछ ख़तरनाक VPN ऐप्स को लेकर एण्ड्रॉयड यूज़र्स को चेतावनी दी है। बता दें कि यह ऐप्स यूज़र्स के बीच इतने पॉपुलर हैं कि इन्हें 10 करोड़ से ज़्यादा बार डाउनलोड किया जा चुका है।
 
जानकारी के लिए बता दें कि VPN के एनालिसिस से पता चला है कि इन ऐप्स में ऐसी खामियां हैं, जिससे हैकर्स यूज़र्स के फ़ोन पर ख़तरनाक अटैक कर सकते हैं। इस तरह के अटैक को ‘Man in the Middle (MITM)’ हैक्स जाता है। जानकारी के लिए बता दें कि हैकर्स इन ऐप्स के ज़रिए यूज़र और VPN प्रोवाइडर के बीच हुई एक्टिविटी को आसानी से ट्रैक कर सकते हैं। इतना ही नहीं, हैकर्स यह भी चेक कर सकते हैं कि यूज़र अपने फ़ोन में कब क्या कर रहा है। जैसा कि हमने आपको बताया कि VPN का काम यूज़र्स की इंटरनेट एक्टिविटी को सुरक्षित और प्राइवेट रखना होता है। लेकिन यह ऐप्स इसका उल्टा काम कर रहे हैं और यूज़र्स की प्राइवेसी के साथ छेड़छाड़ कर रहे हैं।
 
आइये आपको बताते हैं कि वे कौन से 10 VPN ऐप्स हैं, जो कि यूज़र्स के लिए ख़तरनाक साबित हो सकते हैं। इनके नाम हैं; SuperVPN Free VPN Client, TapVPN Free VPN, Best Ultimate VPN - Fastest Secure Unilimited VPN, Korea VPN - Plugin for OpenVPN, Wuma VPN-PRO(Fast & Unlimited & Security), VPN Unblocker Free unlimited Best Anonymous Secure, VPN Download: Top, Quick & Unblock Sites, Super VPN 2019 USA - Free VPN, Unblock Proxy VPN, Secure VPN-Fast VPN Free & Unlimited VPN, Power VPN Free VPN.
 
एक रिसर्च के मुताबिक़ इन मैलेवेयर वाले VPN ऐप्स से क़रीब 10 करोड़ लोगों की बैंकिग और डेबिट-क्रेडिट कार्ड डिटेल चोरी होने का ख़तरा है। इतना ही नहीं, इन ख़तरनाक ऐप्स की मदद से प्राइवेट फ़ोटो और वीडियो भी ऑनलाइन लीक किये जा सकते हैं और बेचे जा सकते हैं। वहीं हो सकता है कि इन ऐप्स की मदद से यूज़र्स की प्राइवेट बातों को रिकॉर्ड कर उन्हें किसी को बेचा जा रहा हो। ऐसे में रिसर्चर्स ने यूज़र्स को सलाह दी है कि वे इन ऐप्स को तुरन्त ही अपने स्मार्टफ़ोन से डिलीट कर दें।